Breaking News
मुंबई: PMC बैंक ग्राहक की हार्ट अटैक से मौत, विरोध प्रदर्शन में हुआ था शामिल| अकाल तख्त ने RSS पर बैन लगाने की रखी मांग, बताया देश विरोधी| महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए बीजेपी का संकल्प पत्र जारी|
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
http://wowslider.com/ by WOWSlider.com v8.7
CATEGORY:Adult

क्या आप सेक्सुअल हाइजीन का रखते हैं ख्याल

क्या आप शारीरिक संबंध बनाने के दौरान या बाद में सेक्सुअल हाइजीन का ख्याल रखते हैं? यदि नहीं रखते, तो ऐसा करना आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। कई लोग होते हैं, जो सेक्स करने के बाद बिना प्राइवेट पार्ट्स को साफ किए ही सो जाते हैं।यदि आपको अपनी और अपने पार्टनर की सेहत का ख्याल है, तो सेक्सुअल हाइजीन से जुड़ी इन बातों को ध्यान में जरूर रखें।

  • सेक्स करने के बाद प्राइवेट पार्ट्स की सफाई बहुत जरूरी है। यह बात पुरुष-महिला दोनों पर लागू होती है। इसके लिए नहाना जरूरी नहीं है। सिर्फ जेंटल तरीके से जेनिटल्स के आस-पास पानी से साफ करें। इससे सेक्स के बाद आप इन्फेक्शन जैसे यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (यूटीआई) से बचे रहेंगे। आप चाहें तो माइल्ड साबुन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन बाहरी त्वचा पर ही साबुन लगाएं। यदि आपकी त्वचा संवेदनशील है या किसी तरह का इन्फेक्शन हुआ है, तो साबुन लगाने से बचें। इससे त्वचा और भी ज्यादा रूखी हो सकती है।
  • कुछ महिलाएं सेक्स करने के बाद वजाइना (vagina) को साफ करने के लिए अंदर पानी, फ्लूड्स, स्प्रे आदि डालकर साफ करने की कोशिश करती हैं। इससे इंफेक्शन हो सकता है। ऐसा इसलिए, क्योंकि वजाइना को सुरक्षा प्रदान करने वाले बैक्टीरिया का प्राकृतिक संतुलन बिगड़ जाता है। साथ ही इन स्प्रेज, फ्लूड्स में हार्श सोप, डिटर्जेंट्स, शैम्पू, परफ्यूम या फिर लोशन में इस्तेमाल होने वाले केमिकल्स इस्तेमाल होते हैं, जो त्वचा के लिए ठीक नहीं। इससे बेहतर होगा कि आप अंदर की त्वचा को साफ करने की कोशिश न करें।
  • शारीरिक संबंध बनाने के बाद महिलाओं को कभी भी अपने प्राइवेट पार्ट को पीछे से आगे की ओर नहीं साफ करना चाहिए। पानी से इस जगह को साफ करते समय हाथों का मूवमेंट हमेशा आगे से पीछे की तरफ हो, इससे संक्रमण होने का चांस कम रहता है।
  • सेक्स करने से पहले और बाद में हाथों और नाखूनों को अच्छी तरह से पानी और साबुन से धो लेना चाहिए। गंदे हाथों से प्राइवेट पार्ट को छूने से इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है।
  • पीरियड्स के दिनों में शारीरिक संबंध बनाने से बचना चाहिए। आप अपने पार्टनर को इस बात के लिए राजी करें। यदि वे आपको समझता है, तो आपकी बात जरूर मानेगा। पीरियड्स के समय सेक्स करने से दर्द और भी ज्यादा बढ़ सकता है।
  • टॉयलेट जाने की जरूरत महसूस हो, तो उसे रोकें नहीं। यह बात सेक्स करने के पहले और बाद में दोनों पर ही लागू होती है। इससे ब्लैडर में मौजूद बैक्टीरिया से छुटकारा मिलता है और आप संक्रमण से भी बचे रहते हैं।
  • प्राइवेट पार्ट्स के आस-पास के अनवॉन्टेड बालों को प्रत्येक सप्ताह साफ करें। खासकर गर्मी के दिनों में इसका ख्याल रखें। अधिक पसीना आने से वहां की त्वचा पर भी दानें, फुंसियां हो सकती हैं। इससे सेक्स के दौरान आपको परेशानी महसूस होगी। हेयर रिमूव करने के लिए हमेशा अच्छी क्वालिटी के प्रोडक्ट्स का ही इस्तेमाल करें।
  • एक या दो गिलास पानी जरूर पिएं। इससे आपको टॉयलेट जल्दी आएगी और शरीर से अधिक से अधिक बैक्टीरिया बाहर निकल सकेंगे। ऐसा करके आप किसी भी तरह के इंफेक्शन होने से भी बचे रहेंगे।
  • यदि आप दोनों को किसी भी तरह का यीस्ट (yeast) इंफेक्शन हो, तो सेक्स करने से बचें। एक को होगा, तो सेक्स करने से दूसरे को भी यह हो सकता है। खुजली, जलन हो या फिर गाढ़ा सफेद डिस्चार्ज प्राइवेट पार्ट से हो, तो इसका इलाज जरूर करवाएं। उसके बाद ही पार्टनर के साथ खुशनुमा और प्यार भरा पल बिताने की कोशिश करें।
  • वैसे तो प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स को सेफ माना गया है, लेकिन कई महिलाओं में यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन होने का खतरा अधिक रहता है। ऐसे में शारीरिक संबंध बनाने के बाद टॉयलेट जरूर जाएं। वजाइना को अच्छी तरह से साफ करें और पानी पिएं। पार्टनर को भी ऐसा करने को कहें।

Copyright © 2016 | All Rights Reserved. Design By LM Softech