Breaking News
राहुल गांधी संग श्रीनगर पहुंचा विपक्ष का डेलिगेशन, एयरपोर्ट पर हंगामा
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
http://wowslider.com/ by WOWSlider.com v8.7
CATEGORY: Bussiness

कार बीमा: आपके काम की 10 सबसे महत्वपूर्ण बातें

निश्चित रूप से आप अपनी कार को महत्व देते होंगे! अपनी कार को चलाते हुए आपको जो गर्व और आनंद का अनुभव होता है, आपकी अपनी कार जिसे आपने महीनों के विचार-विमर्श, रिसर्च और बचत के बाद खरीदा है, उसका वर्णन नहीं किया जा सकता. इसलिए उस पर यदि छोटी-सी खरोंच भी लग जाए तो आपको पीड़ा होती है. उससे कहीं छोटी-सी भी टक्कर लग जाए तो आपकी कई रातों की नींद छिन जाती है. और ईश्वर न करे लेकिन अगर आपकी प्रिय कार कहीं दुर्घटना का शिकार हो जाए तो क्या होगा! इसलिए सबसे महत्वपूर्ण सवाल आपके मन में उठता है कि, 'क्या मैं अपनी कार की सुरक्षा के लिए पर्याप्त उपाय कर रहा हूं?' 

कार बीमा (या मोटर इंश्योरेंस) एक ऐसी छतरी है जो दोनों तरह से बचाव करती है-किसी अनजान जोखिम से आपकी कार को और किसी आकस्मिक घटना की स्थिति में आपको हो सकने वाले किसी नुकसान से. कार के लिए होने वाले बीमा कवर में बीमित कार, बीमित पार्टी और थर्ड पार्टीज (दूसरे वाहन और लोग) शामिल होते हैं. इसलिए किसी को जो प्रीमियम देना होता है वह कई चीजों पर निर्भर करता है, जैसे कार का मूल्य, बीमा कवरेज का प्रकार, वाहन का वर्गीकरण आदि.

भारत में कार बीमा अनिवार्य है. आमतौर पर लोग ऑनलाइन जाकर विवरण पढ़ने और सही कार बीमा चुनने की तकलीफ नहीं उठाना चाहते. ऐसा लगता है कि यह महज एक औपचारिकता है, जिसे बंद कर देना चाहिए, ठीक है!  लेकिन आपको यह आभास नहीं होगा कि यह आपके द्वारा हो सकने वाली सबसे बड़ी गलती साबित हो सकती है. यहां हम आपको 10 ऐसे बिंदुओं के बारे में बताते हैं जो आपको मोटर इंश्योरेंस के बारे में जानना ही चाहिए, अथवा आपके पास संकट में फंसने के दौरान एक निरर्थक योजना ही होगी:

1. जितना ज्यादा डिडक्टिबल होगा, प्रीमियम उतना ही कम होगा-  कार बीमा कंपनियां अपनी कीमत का निर्धारण इस आकलन के आधार पर करती हैं कि किसी आकस्मिक घटना की स्थिति में उन्हें कितना भुगतान करना पड़ सकता है. हालांकि, आप यदि अपने डिडक्टिबल राशि को बढ़ाने पर सहमत हुए तो वह राशि घट जाएगी जो बीमा कंपनी आपको क्लेम पर देती है, ऐसे में आमतौर पर कंपनियां कम प्रीमियम ऑफर करती हैं. आप यदि डिडक्टिबल का भुगतान वहन कर सकते हैं तब तो ठीक है, अन्यथा इस विकल्प को चुनने से बचें.

2. जी हां, आप अपने नो क्लेम बोनस को ट्रांसफर कर सकते हैं (NCB)- आपने अपनी कार को अपग्रेड किया? आप अपने संचित एनसीबी को अपनी नई कार में ट्रांसफर कर सकते हैं. क्या आप नई बीमा कंपनी से जुड़ चुके हैं? फिर से आप अपने मौजूदा एनसीबी को नई कंपनी के कार बीमा पॉलिसी में ट्रांसफर कर सकते हैं. यह बहुत सिम्पल है!

3. जीरो डिप्रिशिएसन कवर के बारे में जानें- जीरो डिप्रिसिएशन कवर आपका सबसे सुरक्षित दांव होता है. इस तरह के बीमा कवर में डिप्रिसिएशन यानी मूल्य ह्रास को शामिल किए बिना पूर्ण निपटान किया जाता है. इसलिए यदि कभी आपकी कार किसी दुर्घटना का शिकार हो जाती है तो जीरो डिप्रिसिएशन कवर से यह सुनिश्चित होता है कि आपको इससे हुए नुकसान के लिए अपनी जेब से कुछ नहीं देना होगा, दूसरी तरफ, किसी सामान्य कार बीमा में डिप्रिसिएशन की गणना की जाती है और इससे आपको निपटान के बाद मिलने वाली राशि काफी घट जाएगी. हां, यह सच है कि जीरो डिप्रिसिएशन कवर के लिए प्रीमियम किसी रेगुलर कवर के मुकाबले ज्यादा होता है, लेकिन यह आपको होने वाली परेशानियों से ज्यादा तो नहीं?

4.  अपनी कार एक्सेसरीज को भी बीमा कवर में शामिल करें!- आपको शायद इसकी जानकारी न हो, लेकिन कई मोटर बीमा कंपनियां आपकी कार में लगी एक्सेसरीज को भी बीमा कवर के तहत शामिल करती हैं. यह एक अलग तरह की ऐड ऑन सुविधा है जो आपकी खास तरह की एक्सेसरीज के लिए कस्टमाइज्ड होती है. आपकी बीमा पॉलिसी में इसे जोड़ने से प्रीमियम की राशि जरूर बढ़ जाती है, लेकिन दीर्घकालिक रूप से देखें तो यह सबसे सुरक्षित और समझदारी भरा दांव है.

5. इंजन का भी बीमा कराएं- क्या आपको पता है कि आपके पास एक ऐसा ऐड-ऑन चुनने का विकल्प होता है जिससे आपके इंजन को भी बीमा कवर मिल जाता है और इससे आपकी गाड़ी के रिपेयर का वह खर्च बच जाता है, जो कि किसी दुर्घटना से नहीं होता? इंजन का रिपेयर काफी खर्चीला हो सकता है, खासकर नुकसान जब बाढ़ से हो, और इस ऐड-ऑन से आप काफी समस्याओं से बच जाते हैं और निश्चित रूप से पैसे की भी बचत होती है!

6. गाड़ी खराब होने/चाबी गुम होने पर मदद? जी हां, आपको इसके बारे में भी पता करना होगा! - कार बीमा पॉलिसी न सिर्फ दुर्घटना के मामलों में, बल्कि आपको कभी ब्रेकडाउन (गाड़ी खराब होने) या आपकी चाबी गुम जाने की स्थति में (ऐसी विकट स्थि‍ति एकाध बार सबके साथ होती है) भी मददगार हो सकती है. हालांकि आपको देखना होगा कि आपकी कार इंश्योरेंस पॉलिसी में ऐसी आकस्मिक घटनाओं के लिए कवर है या नहीं. ऐसा है तो ऑन-रोड रिपेयर कवर से आपको मैकेनिक हासिल करने, गाड़ी को टो कर ले जाने, दुर्घटना के बाद रिपेयर और यहां तक कि टायर एवं ट्यूब बदलने में भी मदद मिल सकती है! लॉकआउट असिस्टेंट से आपको कार की चाबी/लॉक बदलने में मदद मिलेगी.  इसी वजह से हम इसे एक व्यापक कार बीमा योजना कहते हैं. निश्चित रूप से इस तरह की बीमा पॉलिसी आपको हासिल करनी चाहिए.

7. डीलर इंश्योरेंस? आपको इसके बारे में दो बार सोचना होगा- आप सभी तरह के कागजात की जरूरत पूरा करते हैं और बस यह चाहते हैं कि अपनी ब्रांड न्यू कार लेकर ड्राइव पर निकल जाएं. इसलिए आप आसान रास्ता अपनाते हैं. डीलर आपको जो भी ऑफर करता है, आप वह मोटर इंश्योरेंस ले लेते हैं. आप खुद से पूछिए कि क्या यह समझदारी की बात है? सोचिए, किसी खाली चेक पर साइन करना समझदारी कही जाएगी? आप कोई चीज आसानी से हासिल कर रहे हैं, सिर्फ इसलिए यह जरूरी नहीं कि आप बेस्ट डील भी पा जाएं. इसलिए आप विनम्रता से डीलर को ना बोल दीजिए और खुद रिसर्च करिए . सभी तरह की पॉलिसी की तुलना कीजिए, यह देखिए कि दीर्घकालिक लिहाज से आपके लिए कौन-सी पॉलिसी बेहतर होगी और इसके बाद अपना विकल्प चुनिए.

8. अपनी पॉलिसी को लैप्स होने देना समझदारी नहीं है- बीमा कंपनियां ऐसे कार मालिकों को पसंद नहीं करतीं, जिनके पास मोटर बीमा पॉलिसी नहीं है. ऐसे लोगों को गैर-जिम्मेदार माना जाता है और वे इसे एक जोखिमपूर्ण निवेश मानती हैं. ऐसे में वे ऊंचा प्रीमियम लगाकर अपने को सुरक्षित रखती हैं. अपनी कार बीमा पॉलिसी को यदि आपने लैप्स हो जाने दिया तो इसकी आपको अपने सोच से ज्यादा कीमत चुकानी पड़ सकती है. निश्चित रूप से आप जो नई पॉलिसी खरीदेंगे वह सस्ती नहीं मिलेगी.

9. इंश्योरेंस की बंडलिंग से मदद मिलती है- क्या आप किसी बड़े परिवार में रहते हैं जिसके पास आपस में साझा करने के लिए एक से ज्यादा कार हैं? तो संभवत: आप कुल बीमा पर बड़ी रकम खर्च कर रहे होंगे. आपके लिए बेहतर है कि अपनी बीमा कंपनी से बंडल्ड (इकट्ठा) कार बीमा योजना बताने को कहें. इससे आपकी सभी कारों के लिए बीमा प्रीमियम कम करने में मदद मिलेगी और आपकी अच्छी बचत होगी. यह स्मार्ट कदम है न?

10. एक कंपनी से दूसरी तक बीमा प्रीमियम बदलता रहता है- लोकप्रिय लेकिन गलत धारणा के विपरीत, सभी बीमा कंपनियां अलग-अलग रेट ऑफर करती हैं. हर बीमा कंपनी के पास जोखिम प्रबंधन का एक कस्टमाइज फॉर्मूला होता है जिससे उसे यह निर्धारण करने में आसानी होती है कि कवरेज के लिए कितना भुगतान करना होगा. इसलिए किन्हीं भी दो बीमा कंपनियों की कीमत समान नहीं होती. इसलिए आप कोई बीमा पॉलिसी बिना दरों की तुलना किए ले रहे हैं तो आपको ज्यादा भुगतान करना पड़ सकता है.

एक अच्छी मोटर बीमा पॉलिसी यह सुनिश्चित करती है कि आप इत्मीनान से और आर्थिक चिंताओं से मुक्त होकर गाड़ी चलाएं. उदाहरण के लिए इफ्को टोकियो सर्वश्रेष्ठ मोटर बीमा पॉलिसीज पेश करती है जिनमें व्यापक सुरक्षा हासिल होती है. इन पॉलिसीज में घायल होने, मौत या थर्ड पार्टी की प्रॉपर्टी को हुए नुकसान से होने वाली सभी तरह की देनदारी को कवर किया जाता है. दुर्घटनाओं के अलावा, इफ्को टोकियो की बीमा पॉलिसियों में दंगों, आग, चोरी, विस्फोट, प्राकृतिक आपदा आदि के लिए बीमा मुहैया किया जाता है. गाड़ी खराब होने की स्थिति में सड़क पर ही सहायता, चाबी गायब होने पर डुप्लीकेट चाबी प्रदान करने आदि जैसे अतिरिक्त फायदे भी दिए जाते हैं. तो भला कौन नहीं चाहेगा कि इफ्को टोकियो जैसी एक संपूर्ण पॉलिसी लें? तो पूरा समय लें, दरों की तुलना करें और अच्छी तरह से चयन करें.

और हां, अपने दिमाग में उक्त बिंदुओं को याद रखना न भूलें. हैप्पी ड्राइविंग!

 


Copyright © 2016 | All Rights Reserved. Design By LM Softech