Breaking News
हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला तिहाड़ जेल से रिहा| पाकिस्तान: भारतीय उच्चायोग में दिखा ड्रोन, भारत ने सुरक्षा उल्लंघन का मुद्दा उठा जताया कड़ा ऐतराज| पंजाब: सिद्धू के घर का बिजली का बिल बाकी, 9 महीने के 8 लाख से अधिक रुपये बकाया| पश्चिम बंगाल विधानसभा सत्र के पहले दिन हंगामा, चुनावी हिंसा को लेकर बीजेपी ने सदन में लगाए नारे|
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
http://wowslider.com/ by WOWSlider.com v8.7
CATEGORY: समाचार
अप्रैल-मई वाली लू मॉनसून के मौसम में लौटी, सूरज के प्रकोप से परेशान उत्तर भारत

'उत्तर भारत जुलाई का महीना शुरू हो गया है, हर साल इस वक्त लोगों को इंतजार रहता है मॉनसून की बारिश का ताकि गर्मी से राहत मिल सके. लेकिन, अप्रैल और मई महीने में चलने वाली लू इस बार रास्ता भटक गई है और फिर से जून के आखिर में लौटकर आई है. दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा समेत उत्तर भारत के कई राज्यों में बीते कुछ दिनों में रिकॉर्डतोड़ गर्मी पड़ी है, जिसके कारण लोगों की हालत खराब है. जून के आखिरी हफ्ते में दिल्ली-एनसीआर वालों का बुरा हाल रहा, तो वहीं आज यानी जुलाई के पहले दिन भी कोई राहत मिलती नहीं दिख रही है.'

मॉनसून से पहले 'तप' जाता है अरब सागर, इसलिए आ रहे ताउते जैसे तूफान

'चक्रवाती तूफान ताउते (Cyclone Tauktae) ने क्या नुकसान पहुंचाया, कितनी रफ्तार में आया और गया, किन-किन राज्यों में बर्बादी हुई...ये सारी बातें आपको पता ही होंगी. लेकिन आपको शायद ये नहीं पता होगा कि साइक्लोन ताउते आया क्यों? इसके आने की वजह जब वैज्ञानिकों ने जांची तो वो डर गए, क्योंकि जो काम अरब सागर और उत्तरी हिंद महासागर में पहले कभी नहीं हुआ, वो अब हो रहा है. समुद्र के अंदर हो रहे पर्यावरणीय बदलाव की वजह से आमतौर पर शांत रहने वाले हिंद महासागर और अरब सागर में इस समय अफरातफरी मची हुई है. आइए जानते हैं कि ये कैसी अफरातफरी है?'

डिजिटल इंडिया अभियान के छह वर्ष पूरे, आज अभियान के लाभार्थियों के साथ बातचीत करेंगे पीएम मोदी

'नई दिल्ली, पीटीआइ। डिजिटल इंडिया अभियान के आज छह वर्ष पूरे हो गए हैं। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाभार्थियों के साथ बातचीत करेंगे। एक आधिकारिक बयान में इसकी जानकारी दी गई है। भारत को डिजिटल रूप से सशक्त समाज और ज्ञान अर्थव्यवस्था में बदलने की दृष्टि से डिजिटल इंडिया पहल शुरू की गई थी। इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि आज होने वाले कार्यक्रम की शुरुआत केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के उद्घाटन भाषण से होगी। इसके बाद कार्यक्रम में डिजिटल इंडिया की प्रमुख उपलब्धियों पर एक वीडियो प्रेजेंटेशन दिखाई जाएदी। इसके बाद डिजिटल इंडिया की विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों के साथ प्रधानमंत्री संवाद सत्र करेंगे।'

क्या है भारत का डीप ओशन मिशन? बड़ा खर्च करेगी सरकार

'भारत सरकार ने हाल ही में 'डीप ओशन मिशन' को मंजूरी दे दी है. इस अभियान का मुख्य उद्देश्य समुद्री संसाधनों का पता लगाना है, गहरे समंदर में काम करने की तकनीक विकसित करना. ब्लू इकोनॉमी (Blue Economy) को तेजी से बढ़ावा देना होगा. इस मिशन को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाना है. डीप ओशन मिशन भारत सरकार की ब्लू इकोनॉमी को आगे ले जाने के लिए अहम परियोजना मानी जा रही है. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (MoES) इस महत्वाकांक्षी मिशन को लागू करने वाला नोडल मंत्रालय होगा. '

'कोरोना के अलग-अलग वेरिएंट्स को मात दे सकती है Covaxin की बूस्टर डोज'

'कोरोना की दूसरी लहर ने देशभर में खूब तबाही मचाई लेकिन अब इसका प्रकोप कम होता नजर आ रहा है। भारत कोरोना के खिलाफ लड़ाई में डटकर खड़ा है। देश में लोगों को कोरोना से बचाने के लिए बड़े स्तर पर टीकाकरण अभियान चल रहा है। अभी तक देश में कोरोना से सुरक्षा के लिए ती वैक्सीन लगाई जा रही हैं- कोविशील्ड, कोवैक्सीन और स्पूतनिक वी। एक तरफ जहां देश वैक्सीनेशन कर रहा हैं वहीं दूसरी तरफ कोरोना अपने नए नए रूप लेकर लौट रहा है। कई रिपोर्टों ने पहले कहा है कि कोरोना के ऐसे वेरिएंट भी सामनने आए हैं जिन पर वैक्सीन भी बेअसर है, लेकिन इसी बीच कुछ राहत की खबर आई है। इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) और नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) के वैज्ञानिकों ने कहा है कि कोवैक्सिन की बूस्‍टर डोज कोरोना वायरस के अलग-अलग वेरिएंट पर असरदार साबित हो सकती है।'

Copyright © 2016 | All Rights Reserved. Design By LM Softech