Breaking News
पूरे विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या करीब 16 लाख, 95 हजार लोगों की गई जान| भारत में पिछले 12 घंटों में कोरोना के 547 नए केस, 30 की मौत, कुल संक्रमित करीब साढ़े छह हजार| मुंबई के धारावी में पांच नए कोरोना संक्रमितों की पहचान|
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
http://wowslider.com/ by WOWSlider.com v8.7
CATEGORY:World
सालभर में 20 करोड़ रुपये की विदेशी शराब गटक जाते हैं किम जोंग उन!..

'किम जोंग उन फिर से उत्तर कोरिया के प्रमुख चुने गए हैं. चार साल बाद हुए आमचुनावों में उनके पक्ष में 99.98 फीसदी वोट पड़े. हालांकि इस चुनावों में किम के खिलाफ कोई उम्मीदवार मैदान में नहीं था. ऐसा यहां हर चुनाव में होता है लेकिन किम जोंग हमेशा देश में चुनाव कराकर ये साबित करना चाहते हैं कि वो अपने देश में कितने लोकप्रिय और पसंदीदा शासक हैं. वैसे उत्तर कोरिया को दुनिया का सबसे रहस्यमयी देश भी माना जाता है और उसके शासक किम जोंग उन की जिंदगी उससे भी ज्यादा सीक्रेट है. shamwhis शख्सियतों की धन दौलत का आकलन करने वाली साइट द स्काउंडर और यूएन रिपोर्ट के अनुसार किम के पास वर्ष 2018 में सात से 10 बिलियन डॉलर (चार खरब रुपये से सात खरब तक) की रकम होनी चाहिए.'

फैक्ट चेक- इस्लाम नहीं अपना रहे हैं कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो.

'कई फेसबुक यूजर्स ने दावा किया है कि कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ईसाई धर्म छोड़कर इस्लाम अपनाने जा रहे हैं. फेसबुक पेज “UKIP Warwick and Leamington” ने एक वेबसाइट के हवाले से ये खबर पोस्ट की जिसमें दावा किया गया कि जस्टिन ने अपने फैसले के बारे में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विस्तार से जानकारी दी है. स पोस्ट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है. इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि ये दावा झूठा है. कनाडाई प्रधानमंत्री इस्लाम स्वीकार नहीं कर रहे हैं. ये लेख तीन साल पुराना है और एक व्यंग लेख छापने वाली वेबसाइट से ली गई है. कई और फेसबुक पेज जैसे “No sharia law - Never ever give up Australia ” और “United Muslims ” ने भी इस लेख को साझा किया है. ये पोस्ट इसी नाम से ट्विटर पर भी देखी जा सकती है. ज्यादातर सोशल मीडिया यूजर्स ने “वैटिकन इनक्वायर्र” के लेख का ही हवाला दिया है जो तीन साल पहले छपी थी. लेख के मुताबिक, जस्टिन ट्रूडो ने ईसाई धर्म छोड़कर इस्लाम अपनानी कि सोची जब वो हजारी सीरियाई शरणार्थियों से मिले और उनकी दुखभरी कहानियां सुनीं.. “वैटिकन इनक्वायर्र” के लेख में जस्टिन ट्रूडो के बयान को एक और वेबसाइट “TheGlobalSun.com” के हवाले से लिखा गया है. जांच में पता चला कि ये लिंक अब मौजूद नहीं है और ये वेबसाइट “TheGlobalSun.com ” का नाम भी अब कोई भी खरीद सकता है.'

कौन हैं PM इमरान को झटका देकर फिर से PAK आर्मी चीफ बनने वाले जनरल बाजवा?

'जम्मू कश्मीर (Jammu & Kashmir) के पुनर्गठन को लेकर भारत सरकार ने जब फैसला किया, तब पाकिस्तान के सेनाध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा ने भारत के खिलाफ (Anti India) तेवर​ दिखाए थे. उन्होंने कहा था 'कश्मीर की हकीकत को न तो 1947 में एक गैरकानूनी दस्तावेज़ से बदला जा सका था और न ही अब या भविष्य में बदला जा सकता है'. साफ तौर पर भारत के फैसले को मानने से इनकार करने वाले बाजवा को लेकर ये भी कहा गया कि नवाज़ शरीफ सरकार (Nawaz Sharif Government) के समय सेनाध्यक्ष बने बाजवा को इमरान कंटिन्यू नहीं करना चाहते थे. तो जानें कि पाकिस्तान की क्या मजबूरी है और कश्मीर के संदर्भ में बाजवा के इस कार्यकाल के क्या मायने हैं. ये भी जानें कि जनरल बाजवा का इतिहास क्या रहा है.'

Copyright © 2016 | All Rights Reserved. Design By LM Softech