Breaking News
कोरोनाः 2 से 18 साल के बच्चों को लगाई जाएगी कोवैक्सीन, सरकार ने दी मंजूरी| सीएम केजरीवाल के घर के पास BJP का प्रदर्शन, सार्वजनिक स्थानों में छठ पूजा की अनुमति की मांग| लखीमपुर हिंसाः मंत्री अजय मिश्रा बोले- निष्पक्ष जांच हो रही है, किसी पर दबाव नहीं है |
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
http://wowslider.com/ by WOWSlider.com v8.7
CATEGORY: News

2 नहीं 24 घंटे फोन स्वीच आफ

0 कहीं भाजपा की लटिया न डुबों दें बिजली अफसर

बरेली। एक तरफ देश कोयला संकट से जूझ रहा है तो बिजली व्यवस्था दुरूस्त रखने की कमान देश में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने तो प्रदेश में खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संभाल ली है। दूसरी तरफ संकट में ऐसे समय में बिजली अफसर दो घंटे के कार्य बहिष्कार के नाम पर २४ घंटे सीयूजी नंबर आफ करके बैठे हैं। ऐसा ही हाल रहा तो यह बिजली अफसर विधानसभा चुनाव में भाजपा की लुटिया डुबो देंगे।

विभिन्न मांगों को लेकर बिजली अभियंता दो घंटे का कार्य बहिष्कार कर रहे हैं। दोपहर बाद तीन बजे से शाम पांच बजे तक के इस कार्य बहिष्कार में अभियंता इन दो घंटे अपने फोन बंद रखते हैं और धरना प्रदर्शन भी करते हैं। दो घंटे के नाम पर अधिकांश अवर अभियंता और एसडीओ तो २४ घंटे फोन बंद रखे हुए हैं। ऐसे में बिजली व्यवस्था पूरी तरह से संविदा कर्मियों के हवाले हैं। कल सुभाष नगर क्षेत्र में दोपहर ३.३० बजे गई बिजली गई और ५.३० बजे आई। एक घंटे बाद ही बिजली फिर चली गई और फिर ८.४५ पर आई। तब पता चला कि बदायूं रोड पर स्टेट बैंक के पास कई कालोनियों की बिजली गुल है। क्षेत्रवासियों ने अवर अभियंता और एसडीओ के फोन मिलाए तो वो स्वीच आफ थे। सांसद धर्मेंद्र कश्यप के मीडिया प्रभारी राहुल कश्यप ने अधीक्षण अभियंता शहर से बदायूं रोड पर बिजली नहीं आने की शिकायत की तो उन्होंने सुभाष नगर सब स्टेशन फोन किया। एसई के फोन के बाद कर्मचारी मौके पर गया तो पता चला कि स्टेचट बैंक के बाहर रखा ट्रांसफार्मर फुंक गया है। एसई ने जेई और एसडीओ को फोन मिलाए तो उन्हें भी सीयूजी नंबर बंद मिले। उसके बाद एसई ने खुद सब स्टेशन पर फोन करके स्टेट बैंक के पास मोबाइल ट्रांसफार्मर भिजवाया तब जाकर रात के एक बजे क्षेत्र की बिजली आपूर्ति सुचारू हो सकी।

 

दीपावली पर खूब मिलेगी बिजली

शासन केनिर्देश केबाद इस बार दीपावली पर लोगों को खूब बिजली मिलेगी। चीफ  इंजीनियर के निर्देश पर सब स्टेशनों से होने वाली खामियों को दूर कराया जा रहा है। वहीं दीपावली पर अतिरिक्त स्टाफ तैनात करने के लिए भी रणनीति तैयार की जा रही है। जिससे कि शिकायत पर तत्काल फाल्ट सही करवाकर सप्लाई सुश्निचित कराई जा सके। 

रोशनी का पर्व दीपावली पर लोगों को बेहतर सप्लाई मुहैया कराने केलिए विभागीय अफसरों ने रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी है। लोड अधिक होने पर लो वोल्टेज की समस्या के साथ ही होने वाले लोकल फाल्ट हो समय केसाथ सही कराने पर भी जोर दिया जा रहा है। वहीं सब स्टेशनों पर लोड चेक करने केसाथ साथ ट्रांसफार्मरों की क्षमता भी परखी जा रही है। 

 

मोबाइल ट्रांसफार्मर ट्राली बनी शोपीस

बिजली विभाग की लारपरवाही लाखों रूपये खर्च कर दो दर्जन से अधिक मोबाइल ट्रांसफार्मर ट्राली शोपीस बनकर रह गई है। जर्जर हालत में उन्हे उपकेन्द्र के बाहर सडक़ के किनारे खड़ा कर दिया है,जिसमें से रोज सामान चोरी होता जा रहा है।

दरअसल उपकेन्द्र के अन्तर्गत आने वाले क्षेत्र में अचानक ट्रांसफार्मर खराब होने की दशा में उसके स्थान पर मोबाइल ट्रांसफार्मर ट्राली रखकर बिजली आपूर्ति सुचारू करने के लिए विभाग ने लाखों रूपया खर्च करके मोबाइल ट्रांसफार्मर ट्राली मुहैया कराई थी। शाहदाना उपकेन्द्र सहित सभी उपकेन्द्रों को चार-चार मोबाइल ट्रांसफार्मर ट्राली इस आशय से भेजी गई थी,कि ट्रांसफार्मर के फुंकने आदि तक तत्काल उन्हे बदल दिया जाये। लेकिन कुछ समय बीतने के ट्रांसफार्मर तो ट्राली से निकाल कर लगा दिये गये ओर उनकी जगह नये ट्रांसफार्मर नही मिल सके। अब यह ट्राली सडक़ पर खड़ी जंग खा रही है।

 

नये ट्रांसफार्मर न मिलने से हो रही दिक्कत

शाहदाना बिजली उपकेन्द्र के कर्मचारियों को कहना है कि उपकेन्द्र को चार मोबाइल ट्राली ट्रांसफार्मर विभाग द्वारा उपलब्ध कराये गये थे,जिन्हे आवश्यकता पडऩे पर ट्राली को भेजकर कनेक्शन जोडक़र सप्लाई चालु करा दी जाती थी। लेकिन पिछले कुछ समय से बड़े ट्रांसफार्मर न मिलने की वजह से इन्हे ट्राली से निकाल कर लगा दिया गया। इससे ट्राली खाली हो गई। अब आवश्यकता पडऩे पर अन्य उपकेन्द्र से मांग की जाती है। यदि उनके पास खाली होती है तो मिल जाती है,अन्यथा विभाग से ट्रांसफार्मर आने पर ही बदला जाता है।

आपातकालीन में मददगार होती है मोबाइल ट्रांसफार्मर ट्राली

वीआईपी डयुटी होने या किसी मंत्री के आने पर अमुक स्थान पर मोबाइल ट्रांसफार्मर ट्राली को उस स्थान पर लगा दिया जाता है। जिससे सप्लाई सुचारू हो जाती है।

सडक़ किनारे खड़े मोबाइल ट्राली से सामान हो रहा चोरी

शाहदाना उपकेन्द्र के बाहर दो मोबाइल ट्रांसपुार्मर ट्राली खड़ी थी,जिनमें से एक का पहिया कोई निकाल ले गया,विभाग को जानकारी होते ही उन्होंने वह वहां से हटवाकर अन्यत्र जगह खड़ी करा दी। दूसरी मोबाइल ट्रासफार्मर ट्राली से रोज लोहा चोरी होता जा रहा है।

 


Copyright © 2016 | All Rights Reserved. Design By LM Softech