Breaking News
मध्यप्रदेश के नीमच में दो समुदाय आपस में भिड़े, धारा 144 लागू | देश में आज कोरोना के 1,569 नए केस | CBI ने कांग्रेस नेता कार्ति चिदंबरम के दफ्तर और आवास समेत कई जगहों पर मारे छापे | ज्ञानवापी: कोर्ट कमिश्नर बोले- सर्वे रिपोर्ट तैयार, दोपहर 12 बजे तक कर सकते हैं पेश |
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
  • 2
http://wowslider.com/ by WOWSlider.com v8.7
CATEGORY:व्यंग्य
मूर्ति और चिड़िया

'बहुत साल पहले, एक ऊँचे चबूतरे पर एक राजकुमार की मूर्ति थी। वह मूर्ति कई कीमती पत्थरों से सजाई गई थी। एक दिन एक चिड़िया उसके नीचे आराम करने के लिए बैठी। '

चींटी और टिड्डा

'गर्मियों के दिन थे। एक मैदान में एक टिड्डा अपनी ही मस्ती में झूम-झूम कर गाना गा रहा था। तभी उधर से एक चींटी गुजरी। वह एक मक्के का दाना उठाकर अपने घर ले जा रही थी।'

गधा, लोमड़ी और शेर

'एक बार एक लोमड़ी और एक गधे में दोस्ती हो गई। दोनों ने मिलकर आपस में एक समझौता किया। उन्होंने सदा एक दूसरे की सहायता करने का वादा किया। एक दिन दोनों साथ मिलकर भोजन ढूँढने के लिए जंगल में गए।'

नीलकंठ और मोर

'एक समय की बात है… एक नीलकंठ ने मोरों को नाचते हुए देखा। वह उनके सुंदर पंखों से मोहित हो गया। वह घूमता-घूमता मोरों के रहने की जगह पहुँचा। वहाँ उसने मोरों के ढेर सारे पंख गिरे हुए देखे। नीलकंठ ने सोचा कि यदि मैं इन पंखों को लगा ले तो मैं भी मोरों की तरह सुंदर बन जाऊँगा। यह सोचकर उसने सभी पंखों को उठाया और अपनी पूँछ के चारों ओर रखकर बाँध लिया। फिर ठुमकता हुआ वह मोरों के बीच पहुँचा और उन्हें घूम-घूमकर दिखाने लगा। मोरों ने उसे पहचान लिया और चोंच से मारना शुरु कर दिया।'

गंजा आदमी और मक्खी

'एक समय की बात है… गर्मी की दोपहर थी। एक गंजा आदमी सुबह से काम करते-करते थककर आराम करने बैठा था। एक मक्खी कहीं से उड़ती हुई आई और उसके आस-पास मंडराने लगी।'

Copyright © 2016 | All Rights Reserved. Design By LM Softech